कोविड से निपटने के लिए सरकार पूरी तरह से सजग और सतर्कः सैजल

0
87

धर्मशाला। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह से सजग और सतर्क है किसी को भी घबराने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के बाद राज्य के विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में आक्सीजन सहित बेड क्षमता को भी बढ़ाया जा रहा है। कांगड़ा जिला में ही बुधवार से 150 अतिरिक्त बेड कोविड रोगियोें के उपचार के लिए उपलब्ध करवा दी गई है और भविष्य में चरणबद्व तरीके से बेड्स की संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी ताकि कोविड संक्रमितों को उपचार की बेहतर सुविधा मिल सके।
बुधवार को धर्मशाला के परिधि गृह में जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ कोविड-19 से निपटने की तैयारियों को लेकर आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए स्वास्थ्य मंत्री डाॅ राजीव सैजल ने कहा कि डाॅ राजेंद्र प्रसाद मेडिकल काॅलेज टांडा में आॅक्सीजन सहित बेड की संख्या 127 से बढ़ाकर 152 कर दी गई है इसके साथ ही आयुर्वेदिक काॅलेज पपरोला में कोविड के लिए 50 बेड से बढ़ाकर 100 कर दी गई है इसके साथ ही नुरपुर अस्पताल में कोविड के लिए 50 बेड के साथ रोगियों को उपचार की सुविधा दी जाएगी।
उन्होंने कहा कि कांगड़ा तथा चंबा के सीमांत क्षेत्रों के कोविड रोगियों के लिए पठानकोट में एक अस्पताल को चिह्न्ति किया गया है इसमें भी शीघ्र ही कोविड रोगियों के लिए उपचार व्यवस्था आरंभ करने पर निर्णय लिया जाएगा। डाॅ सैजल ने कहा कि राधा स्वामी सत्संग परौर में भी मेकशिफ्ट अस्पताल बनाने के लिए तैयारियां अंतिम चरण में है तथा प्रारंभिक तौर पर 250 बेड क्षमता के साथ कोविड रोगियों का उपचार किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि कोविड के संक्रमण से आम जनमानस को बचाने के लिए कोविड टीकाकरण अभियान पूरे प्रदेश में चलाया जा रहा है तथा प्रत्येक नागरिक से कोविड टीकाकरण की दो डोज लेने के लिए आग्रह भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोविड के हर पहलु को ध्यान में रखते राज्य के लोगों की सुरक्षा के लिए उपाय कर रही है। स्वास्थ्य विभाग को भी निर्देश दिए गए हैं कि कोविड रोगियों की उचित देखभाल सुनिश्चित की जाए। कोविड जैसे लक्षण होने पर लोगों को तुरंत टेस्ट करवाने के लिए प्रेरित किया जाए ताकि प्रारंभिक स्तर पर संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इसके साथ ही कोविड से बचाव के प्रोटोकॉल की अनुपालना भी पूरी तरह से सुनिश्चित करने के लिए नियमित तौर पर लोगों को जागरूक करने के आवश्यक कदम उठाने के भी दिशा निर्देश दिए गए।
स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड महामारी की रोकथाम के कार्यों में लगे प्रशासनिक अधिकारियों, चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ, स्वयंसेवी संगठनों तथा राधा स्वामी संत्सग संस्था के सहयोग के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कोविड महामारी का यह दौर पूरे समाज के एक चुनौतीपूर्ण है तथा सबके प्रयासों के साथ ही कोविड महामारी की जंग जीती जा सकती है। इससे पहले उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए कांगड़ा जिला में कोविड से निपटने के लिए किए गए प्रबंधों की विस्तार से जानकारी दी। टांडा काॅलेज के प्रिंसिपल भानु अवस्थी तथा सीएमओ गुरदर्शन ने अस्पतालों में कोविड रोगियों के लिए उपलब्ध सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here