सराज की शिल्हीबागी पंचायत में धन के दुरूपयोग को लेकर एसपी विजिलैंस व उपायुक्त को दिए ज्ञापन

0
81

 

Himachal VOICE (मंडी/अश्विनी भारद्वाज) : मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र सराज की शिल्हीबागी पंचायत में विकास के लिए आए पैसे का दुरूपयोग करने का आरोप लोगों ने लगाया है। इस बारे में पंचायत के लोगों का एक प्रतिनिधिमंडल सोमवार को सुख राम की अगुवाई में उपायुक्त मंडी व पुलिस अधीक्षक विजिलैंस मंडी से मिला।

इस प्रतिनिधिमंडल में सुख राम के साथ पंचायत के दुनी चंद, मनोज कुमार, बीर सिंह, बरवाल सिंह, टुमेर सिंह, सीत राम, रोशन लाल, गोकल चंद, तोता राम, घनश्याम सिंह व कुलवंत सिंह भी शामिल रहे।

इन्होंने लिखित तौर पर उपायुक्त व एसपी विजिलैंस को शिकायत की कि इस पंचायत में 2016 से लेकर आज तक लाखों रूपए का गबन हो चुका है। इसकी जांच के लिए पहले भी एक पत्र दिया था जिस पर बीडीओ सराज को जांच व कामों के निरीक्षण के आदेश दिए थे मगर आज दिन तक न तो कामों का ही निरीक्षण हुआ है और न जांच हुई है। इससे कई तरह की शंकाएं पैदा हो रही हैं।

मांग की गई है कि पंचायत में 23 मई 2020 को जो प्रारंभिक जांच हुई थी उसके अनुसार 4 लाख 14 हजार रुपए की वसूली बनती है। यह वसूली भी अभी तक नहीं की गई। मांग की गई कि शिल्हीबागी पंचायत के विकास कार्यों का निरीक्षण करके इसका आकलन करवाया जाए तथा सरकारी पैसे का जो दुरूपयोग हुआ है उसकी जांच करके कार्रवाई अमल में लाई जाए।

इधर, इस बारे जब शिल्हीबागी पंचायत की प्रधान ठाकरी देवी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। एक बार विडियो सराज, एक बार जेई विकास कार्यों का निरीक्षण कर चुके हैं, इसके बाद एसडीओ को निरीक्षण करने के लिए आदेश हुए थे मगर उनके बीमार हो जाने के कारण निरीक्षण स्थगित किया गया था। गबन जैसी कोई बात नहीं है। विकास कार्यों के लिए आए पैसे का पूरा सदुपयोग हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here