शिमला: परिजनों को सौंपा मासूम योगराज का शव, पोस्टमॉर्टम में मिले जानवर के बाल

0
11

शिमला: दिवाली की रात लापता हुए पांच साल के मासूम योगराज की मौत तेंदुए के हमले में हुई थी। जांच अभियान में जुटी टीमों ने शनिवार को बच्चे का शव तीन टुकड़ों में बरामद किया था। रविवार आईजीएमसी शिमला में शव का पोस्टमार्टम हुआ। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पोस्टमार्टम में डॉक्टरों को जानवर के बाल मिले हैं।

इस बात से इसका प्रमाण मिल रहा है कि तेंदुए ने ही बच्चे को शिकार बनाया था। हालांकि पुलिस अभी पोस्टमार्टम व फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। डॉक्टरों ने पोस्टमार्टम के दौरान हड्डियों के बीच मिले बाल को जांच के लिए फॉरेंसिक लैब जुन्गा भेज दिया गया है। कुछ और सैंपल भी जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजे गए हैं।

हालांकि अभी इस पर पुलिस और डॉक्टर कुछ भी कहने से इंकार कर रहे हैं। लेकिन विशेषज्ञों की थ्योरी बता रही है कि जंगली जानवर बच्चे को मुंह में उठाकर लग गया और सुरक्षित स्थान पर जाकर उसे नोच नोचकर खाया।

पुलिस ने रविवार को पोस्टमार्टम करवाने के शव परिजनों को सौंप दिया है। दोपहर बाद शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इस पर कुछ कहा जा सकता है।

इस बीच वाइल्ड लाइफ विंग की टीम रविवार को दोबारा डाउनडेल के जंगल पहुंची और टीम ने जंगल में सर्च ऑपरेशन चलाया। जंगल में लगाए गए ट्रैप कैमरे की फुटेज भी देखी गई, लेकिन इसमें तेंदुए की कोई मूवमेंट नहीं दिखी। कुछ अन्य जानवर इसमें देखे गए हैं। आदमखोर तेंदुए द्वारा बच्चे को शिकार बनाने के बाद शहर में दहशत का माहौल है। लोग सुबह और शाम को अकेले घरों से बाहर निकलने में भी डर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here