हिमाचल: पूरा हुआ बचपन का सपना, सेना में नर्सिंग लेफ्टिनेंट बनी कुनिहार की मनी कौशल

0
729

सोलन:  टूटने लगे हौसले तो ये याद रख, बिना मेहनत के तख्तों ताज नहीं मिला करते। ढूंढ लेते हैं अंधेरों में मंजिल अपनी, क्योंकि जुगनू कभी रोशनी के मोहताज नहीं होते। कुछ ऐसी ही रोशनी बिखेर कर कुनिहार के साथ लगते गावं बिल की बेटी मनी कौशल ने भारतीय सेना में नर्सिंग लेफ्टिनेंट बन कर क्षेत्र का नाम रोशन किया है।

मनी कौशल ने प्रारंभिक शिक्षा कुनिहार व उच्च शिक्षा बीएल पब्लिक वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कुनिहार से उत्तीर्ण की। इसके बाद बीएससी नर्सिंग व एमएससी नर्सिंग की शिक्षा शिमला से पूरी की। उत्कृष्ट रैंकिंग से प्रतियोगी परीक्षा पास करके अब आईएनएचएस कल्याणी विशाखापट्टनम में 2 जून को बतौर नर्सिंग लेफ्टिनेंट कार्यभार संभाल कर देश सेवा में अमूल्य योगदान देगी।

मनी के पिता राजेन्द्र कौशल शिक्षा विभाग में कार्यरत हैं व माता कल्पना कौशल गृहणी है। मनी ने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता व गुरुजनों को देते हुए कहा कि इन सभी का इस मुकाम को हासिल करने में महत्वपूर्ण योगदान है।

मनी ने कहा कि मेरा बचपन से ही भारतीय सेना में नर्सिंग प्रोफेशन कार्य करके देश सेवा का सपना था, जिसे आज ईश्वर ने गुरुजनों के मार्गदर्शन व माता-पिता के आशीर्वाद से पूरा किया है। कुनिहार क्षेत्र के ग्रामीणों ने भी अपनी होनहार बेटी की इस कामयाबी पर उसे बधाई दी और उसके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here