शहीद विवेक ने कहा था, बड़ी धूमधाम से मनाऊंगा बेटे का पहला जन्मदिन, अधूरी रह गई तमन्ना

0
14

कांगड़ा: तमिलनाडु में हेलिकॉप्टर क्रैश होने से हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र के रहने वाले विवेक कुमार की अपने बेटे की पहला जन्मदिन मनाने की तमन्ना अधूरी रह गई।

विवेक के चचेरे भाई सुरजीत कुमार ने बताया कि विवेक कुमार चार माह पहले करीब डेढ़ महीने की छुट्टी लेकर अपने पैतृक गांव आए थे। विवेक कुमार अपने बेटे के जन्म के दौरान छुट्टी लेकर घर आए थे। इस दौरान बेटे के जन्म पर वह कोई बड़ा कार्यक्रम नहीं कर पाए थे।

उन्होंने अपने परिवार से कहा था कि जब उनका बेटा एक साल का हो जाएगा तो उसका पहला जन्मदिन वह धूमधाम से मनाएंगे। बेटे के पहले जन्मदिन पर बड़ा कार्यक्रम करेंगे, लेकिन विवेक की यह तमन्ना अधूरी रह गई।

सीनियर सेकेंडरी स्कूल कोसरी में प्राप्त की थी शिक्षा

विवेक ने सीनियर सेकेंडरी स्कूल कोसरी में शिक्षा प्राप्त की थी। इसके बाद वह सेना में भर्ती हो गए थे। करीब 9 वर्ष तक उन्होंने सेना में सेवाएं दीं। उसका एक छोटा भाई बेकरी में काम करता है और बड़ी बहन की शादी हो गई है।

विवेक कुमार की मौत की खबर सुनने के बाद जयसिंहपुर सहित पूरे कांगड़ा जिले में शोक की लहर छा गई है। सोशल मीडिया पर विवेक कुमार को हजारों लोगों ने श्रद्धांजलि दी। विवेक कुमार के पिता खेतीबाड़ी करते हैं। ससुराल कोसरी गांव में ही हैं। बारहवीं की शिक्षा प्राप्त करने के बाद वह जैक राइफल में भर्ती हुए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here