नहीं रहे “नट्टू काका”, कैंसर से हार बैठे ज़िंदगी

0
16

एंटरटेनमेंट डेस्क: “तारक मेहता का उल्टा चश्मा” एक ऐसा टीवी सीरियल जिसने हर उम्र के व्यक्ति के मन में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। शो के हर किरदार ने दर्शकों के मन में अपनी एक अलग छाप छोड़ी है। लेकिन इस मशहूर टीवी शो में एक अहम किरदार निभाने वाले अभिनेता ने आज इस दुनिया को अलविदा कह दिया।

13 सालों से लगातार शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा में दर्शकों का मनोरंजन करने वाले अभिनेता घनश्याम नायक उर्फ नट्टू काका का 77 साल की उम्र में निधन हो गया। नट्टू काका की भूमिका निभाने वाले घनश्याम नायक ने लगातार दर्शकों का मनोरंजन किया। नट्टू काका पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे।  इस बात की जानकारी खुद तारक मेहता का उल्टा चश्मा के निर्माता असित मोदी ने साझा की थी।

उन्होंने बताया कि नट्टू काका एक लम्बे समय से कैंसर की बीमारी से जूझ रहे थे। कुछ महीने पहले उनके दो ऑपरेशन्स भी हो चुके थे। उम्र के कारण वह रोजाना शूटिंग पर नहीं जा पाते थे लेकिन वह शुरुआत से लेकर अभी तक तारक मेहता की टीम का हिस्सा थे।

नट्टू काका की भूमिका निभाने वाले घनश्याम नायक ने हमेशा अपनी कॉमेडी और अलग अंदाज से लोगों का खूब मनोरंजन किया। तारक मेहता का उल्टा चश्मा में उन्होंने जेठालाल के असिस्टेंट नट्टू काका की भूमिका निभाई थी। वो उनकी दुकान में काम करते थे और बाघा उनका भांजा था।  नट्टू काका के अंग्रेजी बोलने का अंदाज प्रशंसकों को खूब पसंद आता था। वे अपने फनी एक्सप्रेशन्स से सभी को हंसा-हंसा कर लोटपोट कर देते थे।

नट्टू काका के निधन की जानकारी तारक मेहता के निर्माता असित मोदी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर साझा की। उन्होंने खबर साझा करते हुए लिखा, ‘हमारे प्यारे नट्टू काका हमारे साथ नहीं रहे। परम कृपालु परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में जगह दे और परम शांति प्रदान करें। उनके परिवार को ये दुःख सहने की शक्ति दे। नट्टू काका हम आपको नहीं भूल सकते। 

जून में एक मीडिया चैनल से खास बातचीत करते हुए नट्टू काका उर्फ घनश्याम नायक के बेटे विकास ने बताया था कि पांच महीने पहले घनश्याम नायक के गले में कुछ स्पॉटस दिखाई दिए थे। इसके बाद उन्होंने आगे का इलाज शुरू कराने का फैसला किया। विकास ने बताया कि अप्रैल महीने में गले की पॉजिट्रॉन एमिशन टोमोग्राफी स्कैनिंग कराई गई थी, जिसके बाद हमें इस बीमारी का पता चला। उन्हें इन स्पॉट्स की वजह से कोई तकलीफ नहीं थी।

गंभीर बीमारी की चपेट में आने के बाद नट्टू काका यानी घनश्याम नायक का परिवार कोई रिस्क नहीं लेना चाहता था। इसलिए परिवार ने तुरंत उनके कीमोथेरेपी सेशन्स शुरू किए थे जिन्होंने शुरुआती दौर में उन्हें डाइगनॉस किया था, उन डॉक्टर्स से भी उन्होंने बातचीत की।

इससे पहले भी घनश्याम नायक गले में परेशानी के चलते अपना ऑपरेशन करा चुके हैं। पिछले साल एक्टर के गले का ऑपरेशन हुआ था, जिसमें 8 गांठें निकाली थीं। ऑपरेशन के बाद डॉक्टर ने उन्हें आराम करने की सलाह दी थी। लेकिन 77 साल की उम्र में नट्टू काका काफी स्ट्रॉग थे। वह मुश्किल दौर में भी गुजरात के दमन में शो की शूटिंग कर रहे थे।

जीवन में इतनी परेशानियों के बाद भी नट्टू काका जिंदादिल इंसान थे। इस उम्र में भी वह काम के प्रति डेडिकेटेड थे और अपने फैंस का भरपूर मनोरंजन करते थे। वह सालों से लोगों का अपनी एक्टिंग से दिल जीत रहे थे। बता दें कि घनश्याम नायक सिर्फ टीवी ही नहीं बल्कि फिल्मों में भी अपने अभिनय से सभी को इंप्रेस कर चुके हैं। वे साल 1960 में आशोक कुमार की फिल्म मासूम में  बाल कलाकार के रूप में नजर आ चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here