नहीं मिलेगा पुलिस क्लीयरेंस, ‘अग्निवीरों’ को एयर चीफ मार्शल की चेतावनी

0
1

नई दिल्ली: अग्निपथ भर्ती योजना के विरोध में सड़कों पर उतरे युवाओं को चेतावनी जारी करते हुए एयर चीफ मार्शल वी आर चौधरी ने कहा कि उन्हें इस तरह की हिंसक प्रतिक्रिया की उम्मीद नहीं थी। उन्होंने प्रदर्शन में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों को कहा कि उन्हें बाद में बड़ा नुकसान हो सकता है क्योंकि आगे पुलिस वेरिफिकेशन क्लियर नहीं होगा तो नौकरी भी नहीं मिलेगी।

इंडिया टुडे के मुताबिक, एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने कहा, “हम इस तरह की हिंसा की निंदा करते हैं। यह समाधान नहीं है। अंतिम चरण पुलिस सत्यापन है। यदि कोई इस प्रदर्शन में शामिल है, तो उन्हें पुलिस से मंजूरी नहीं मिलेगी।”

गृह मंत्रालय से रक्षा मंत्रालय तक आरक्षण

सरकार ने शनिवार को भावी अग्निवीरों के लिए बड़ा ऐलान किया। गृह मंत्रालय की ओर से असम राइफल्स और सीएपीएफ भर्ती में 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा। वहीं, रक्षा मंत्रालय ने भी अपने विभाग में नौकरियों के लिए 10 फीसदी आरक्षण देने का ऐलान किया है। उधर, भावी अग्निवीरों के लिए खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि है वे खेल मंत्रालय में युवाओं को शामिल करने के लिए विचार कर रहे हैं।

रक्षा मंत्रालय ने तीन सेना प्रमुखों से मुलाकात की

बता दें कि अग्निपथ योजना के खिलाफ व्यापक विरोध के बीच सरकार अपने कदम पर आगे बढ़ रही है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस कड़ी में शनिवार को तीन सेना प्रमुखों के साथ बैठक की। रक्षा मंत्री की सेना प्रमुखों के साथ यह बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इस वक्त अग्निपथ स्कीम के खिलाफ देशभर के कई हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं।

अग्निपथ स्कीम के खिलाफ आग 13 राज्यों में फैल चुकी है। पिछले तीन दिनों में देश के कई हिस्सों में युवाओं द्वारा तीव्र विरोध प्रदर्शन देखा गया है। विपक्षी दलों ने सरकार से इस योजना को वापस लेने का आग्रह किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here