हिमाचल: शिक्षा के मंदिर में दिव्यांग MTW से दुष्कर्म, आरोपी हेडमास्टर व चौकीदार गिरफ्तार

0
597

सिरमौर: शिक्षा का मंदिर कहे जाने वाले स्कूल में हेडमास्टर और स्कूल के चौकीदार ने एक बेहद घिनौने कृत्य को अंजाम दिया है। मामला हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले का है। जिले के संगड़ाह उपमंडल के तहत आते एक मिडल स्कूल में मूक-बधिर मल्टी टास्क वर्कर के साथ स्कूल के हेडमास्टर और चौकीदार ने दुष्कर्म जैसे कुकृत्य को अंजाम दिया है।

यह भी पढ़ें: किन्नौर: HRTC बस पलटी, सड़क में बर्फ के कारण हुआ हादसा, यात्री सुरक्षित

दुष्कर्म की इस वारदात को फरवरी के महीने में अंजाम दिया गया था। चूंकि पीड़िता न तो बोल पाती है, न ही सुन पाती है। लिहाजा बयान कलमबद्ध करने के लिए पुलिस एक्सपर्ट की मदद ले रही है, ताकि सांकेतिक भाषा का इस्तेमाल किया जा सके। फ़िलहाल, ये जांच का विषय है कि वारदात को एक से अधिक बार अंजाम दिया गया था या नहीं।

पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने आरोपी हेडमास्टर और चौकीदार को गिरफ्तार कर लिया है। शुक्रवार को हाईकोर्ट से आरोपियों की अग्रिम जमानत याचिका रद्द हो गई। इसी बीच पुलिस ने उपमंडल के हेडमास्टर व चौकीदार को पूछताछ के लिए थाने में तलब किया था, जिसके बाद उनकी गिरफ्तारी की गई।

एक साल पहले ही लगी थी नौकरी

बताया जा रहा है कि गत वर्ष से स्कूल में मल्टी टास्क वर्कर के रूप में कार्यरत है। परिजनों ने इसकी शिकायत डीसी सिरमौर को सौंपी थी। इसके बाद पुलिस ने 24 फरवरी को IPC की धारा 376 के तहत मामला दर्ज कर लिया था। लेकिन आरोपियों ने अग्रिम जमानत के लिए उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी। जमानत याचिका रद्द के बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें: एक और हिमाचली बना करोड़पति, चुराह के अमर सिंह ने Dream 11 पर 1 करोड़ जीता

मामले की पुष्टि करते हुए DSP संगड़ाह मुकेश डडवाल ने बताया कि शनिवार को आरोपियों को न्यायालय में पेश किया जाएगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उधर,शिक्षा विभाग भी अपने स्तर पर कार्रवाई अमल में ला सकता है। हेडमास्टर सहित चौकीदार का निलंबन भी तय माना जा रहा है। साथ ही विभागीय जांच भी अलग से शुरू की जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here