SFI हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय इकाई ने उप कुलपति को छात्रों की मांगों को लेकर सौंपा ज्ञापन

0
67

Himachal VOICE ब्यूरो, शिमला। SFI हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय इकाई ने  उप कुलपति को छात्रों की मांगों को लेकर आज ज्ञापन सौंपा। SFI ने उप कुलपति के सामने मांग रखी कि हिमाचल में PG के छात्रों को लेकर विश्वविद्यालय अपना रुख स्पष्ट करें और साथ ही SFI ने UIT में  ट्यूशन फीस के अलावा जो  अतिरिकत फीस वसूली जा रही है उस लूट को बंद करने की मांग भी रखी। 

SFI ने कहा कि इस कोरोना के दौर के अंदर जहां एक तरफ संस्थान लम्बित परिणाम घोषित नही कर पा रहा है बजाय उसके वहाँ पर छात्रों का फीस के नाम पर आर्थिक शोषण किया जा रहा है । उप कुलपति ने ये आश्वासन दिया कि इस बार अतिरिक्त फीस नही ली जाएगी। SFI कैंपस अध्य्क्ष रविन्द्र चंदेल ने कहा कि जो विश्वविद्यालय को 40,000 करोड़ की ग्रांट  राज्य सरकार से मिलती थी वो इस बार नही दी गयी है ये साफ दर्शाता है कि हमारी सरकार तथा शिक्षा मंत्रालय उच्च शिक्षा को लेकर कितना गंभीर है।

उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार लगातार शिक्षा को गर्त की तरफ धकेल रही है। UILS में भी कमोबेश यही स्तिथि है । SFI ने उप कुलपति के सामने ये भी माँग रखी कि जो विश्वविद्यालय में covid कमिटी बनी है उसकी सिफारिशों को सार्वजनिक किया जाए कि उस कमेटी ने छात्रों के स्वास्थ्य को लेकर क्या सुझाव दिए उनको सार्वजनिक किया जाए।

कैंपस सचिव गौरव ने कहा कि विश्वविद्यालय में प्रदेश के हर कोने से छात्र पढ़ता है और उसके साथ ही बहुत से छात्र हिमाचल से बाहर के भी पढ़ते है। अगर परीक्षा होगी तो होस्टल खोलना बहुत रूरी है। ताकि छात्र मानसिक तनाव से मुक्त होकर अपनी परीक्षाओ की तैयारी कर सकें। SFI ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जल्द से जल्द इन मुद्दों को लेकर कोई सकारात्मक कदम नही उठाये गए तो SFI उग्र आंदोलन करेगी जिसकी पूरी जवाबदेही विश्वविद्यालय प्रशाशन की होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here