आनी विकासखंड की लोअर बेल्ट में शुरू हुआ नाशपाती का सीजन, अच्छे दाम मिलने की लगाई उम्मीद

0
60

आनी (मधु शर्मा): इस बार नाशपाती  बागवानों की मिठास बढ़ा सकती है । बागवानों को अच्छी मंडी मिलने की है उम्मीद। नाशपाती ने आम आदमी को अपनी ओर आकर्षित करना शुरू कर दिया है। चूंकि सेब जैसा फल अपने ऊंचे दामों के कारण आम आदमी की पहुंच से दूर होता जा रहा है, इसलिए नाशपाती उनके लिए बेहतर विकल्प है।

मंडियों में इन दिनों नाशपाती बहुतायत में आ रही है। देशी नाशपाती बागवानों को अच्छे दाम मिलने की सम्भावना लग रही है। नाशपाती पिछले दिनों से आनी खण्ड से आसपास की मंडियों व बाजारों में बिकने के लिए जा रही है। मंडियों से निकलने के बाद नाशपाती ग्राहक तक 10 से 15 रुपये महंगी पहुंच रही है। मंडी में इस फल का भाव 30 से 35 रुपये प्रति किलोग्राम है।

फिलहाल नाशपाती खेगसू, नारकंडा, शिमला और सोलन सब्जी मंडी से आ रही है। इसकी थोक की बिक्री भी काफी है। वैसे नाशपाती सेहत के लिए भी अच्छी मानी जाती है। यह जहां पेट की गर्मी को दूर करती है, वहीं पेट संबंधी रोगों में भी लाभदायक है। इस बार नाशपाती मंडी में आनी शुरू हो गई है ।

नाशपाती के मंडी में आते ही ग्राहकों की भी संख्या बढ़नी शुरू हो गई है। मंडीयो में नाशपाती की बिक्री काफी हो रही है। नाशपाती मंडी में आते ही फुटकर विक्रेताओं द्वारा बेचने के लिए बाजारों में पहुंचा दी जाती है। नाशपाती का कारोबार अभी ढीला भी है। आने वाले सप्ताह में नाशपाती अपना खूब रंग विखरने की उम्मीद है।

बागवानों को इस बार अच्छे रेट मिलने की संभावना लग रही है। बागबान लीला चंद शर्मा, महेंद्र ठाकुर, गोविंद सिंह, नितिका शर्मा, रितिका शर्मा, गोपाल शर्मा , दीपक शर्मा, जिया लाल, चमन शर्मा काफी उत्साहित लग रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here