गंभीर पेयजल संकट पर सरकारी तंत्र की उदासीनता के खिलाफ कल सुबह से कुशाल भारद्वाज का सत्याग्रह

0
69

गंभीर पेयजल संकट पर सरकारी तंत्र की उदासीनता के खिलाफ तथा जनता को पानी उपलब्ध करवाने की मांग के लिए वीरवार सुबह 10.30 बजे कुशाल भारद्वाज पानी के लिए सत्याग्रह शुरू कर रहे हैं। उन्होंने सभी से अपील की है कि अपने-अपने गांव से इस सत्याग्रह में खाली बर्तनों के साथ प्रदर्शन करें।

कुशाल भारद्वाज ने कहा कि जोगिंदरनगर की विभिन्न पंचायतों के अनेकों गांवों विशेषकर नौहली व बिहूं पंचायतों तथा भराड़ू पंचायत के कुछ गांवों में पीने के पानी के लिए हाहाकार मचा है। लेकिन सरकार तथा सरकारी तंत्र में से किसी को कोई चिंता ही नहीं है। पानी की आपूर्ति बारे मैं पिछले 3 महीने  से सरकार, प्रशासन व विभाग को कई बार बोल चुका हूं। प्रतिनिधिमंडल ले जा कर ज्ञापन भी दिये। किसान सभा की तरफ से किसानों ने भी ज्ञापन दिये। हमने फरवरी में ही स्पष्ट कर दिया था कि अभी से ही पानी की किल्लत शुरू हो गई है तथा गर्मियों में तो हर साल की तरह त्राहि-त्राहि मच जायेगी। इसलिए समय रहते इंतज़ाम कर लो।

हालात इतने बदतर हो चुके हैं कि कई परिवारों को तो खाने के लिए डिस्पोज़ल प्लेटें इस्तेमाल करनी पड़ रही हैं। क्योंकि बर्तन धोना भी समस्या है। हर साल गर्मियों में ऐसा ही होता है। 40 साल से लारे लप्पे ही चल रहे हैं। वर्तमान सरकार को भी सता में आये 4 साल होने वाले हैं। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। जो 40 साल में हुआ उसको हम अब नहीं होने देंगे। इन इलाकों में पानी उपलब्ध करवाना मेरे लिए जंग के समान है। जो कोई भी इस इलाके की जनता को प्यासा रखना चाहते हैं, मोहताज़ रखना चाहते हैं, उनसे भी जंग लड़ी जाएगी।  जब से हम ने पानी के मुद्दे को गंभीरता से उठाया है, सब महात्माओं को सांप सूंघ गया है। मैं सबको स्पष्ट करना चाहता हूं कि पानी के लिए हमारी तरफ से ये निर्णायक जंग है।

प्रशासन व विभाग को मैंने सुझाव दिया था कि इतनी गंभीर समस्या को देखते हुए फिलहाल टैंकरों के माध्यम से ही पानी दे दो। प्रशासन व विभाग दोनों की तरफ से जवाब मिला कि कल ही टैंकरों के द्वारा पानी की आपूर्ति शुरू कर देंगे। हर दिन बोला जाता है कि कल से शुरू कर देंगे, लेकिन 5 दिन बीत जाने के बाद भी सब खामोश बैठे हैं। इलाके की जनता की सतासीनों, प्रशासन व विभाग में से  किसी को कोई परवाह नहीं है। इसलिए कल वीरवार 3 जून को मैं एसडीएम ऑफिस व जलशक्ति विभाग के प्रवेश द्वार पर पानी के लिए सत्याग्रह शुरू कर रहा हूं। 

जिन भी गांवों में पीने के पानी की समस्या चल रही है, कहीं हैंड पंप खराब हैं, मोटर खराब है, पाइपें फटी हैं, गल-सड़ गई हैं या किसी अन्य कारण से नियमित पानी नहीं मिलता है, उन सब गांवों के किसानों एवं आम लोगों से अनुरोध है कि कल ठीक 10 बजकर 30 मिनट पर एक साथ सभी गांवों में पानी के लिए सत्याग्रह शुरू करें। 

बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सबसे अनुरोध है कि पानी उपलब्ध करवाने के लिए निर्वाचित प्रतिनिधि के तौर मेरे द्वारा शुरू किये जा रहे ‘पानी के लिए सत्याग्रह’ कार्यक्रम में अपने-अपने गांवों में आप लोग 10.30 बजे से दोपहर 12 बजे तक खाली बर्तनों के साथ जोरदार प्रदर्शन करें। मुझे उम्मीद है कि  समस्त जनता इस पानी सत्याग्रह कार्यक्रम में एकजुटता से भाग लेगी। इस सत्याग्रह में गांवों में इतनी एकता कायम करो कि सरकार, प्रशासन व विभाग  पानी उपलब्ध करवाने के लिए मजबूर हो जाये।

भराड़ू जिला परिषद वार्ड के अलावा जोगिन्दर नगर के किसी भी गांव में यदि यह समस्या है तो खाली बर्तन के साथ कल सुबह इस प्रदर्शन में अपने घर-गांव से ही हिस्सा लें। किसान सभा के सभी साथियों से आग्रह है कि पानी का संकट झेल रहे गांवों को समर्थन में आप भी अपने-अपने गांवों में प्रदर्शन करें तथा सत्याग्रह आंदोलन का समर्थन करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here