चीन में योग गुरु बन चमका चम्बा का रवि भारद्वाज

0
16

कहते हैं कि मेहनत से किसी भी मंजिल तक पहुंचा जा सकता है, बशर्ते आप अटल रहें। जिले के पनेला गांव का रवि भारद्वाज पिछले 5 साल से चीन में योग गुरु बन उभरा है। खुशी की बात यह है कि चीनी लोग उनसे बड़ी तन्मयता के साथ योग सीख रहे हैं। चम्बा जिले के छोटे से गांव पनेला का रवि कई साल से चीन में रहकर लोगों को योग सिखा रहा है।

वर्ष 1990 में सरकारी विभाग में चालक ज्ञान चंद के घर पैदा हुए रवि ने जमा-2 कक्षा की पढ़ाई पूरी करने के बाद पतंजलि योगपीठ हरिद्वार से 3 वर्षीय डिग्री हासिल की। इसके अलावा गुड़गांव हैल्थ केयर योगा स्टूडियो में भी करीब एक वर्ष तक योग शिविरों में हिस्सा लिया।

चंडीगढ़ में करीब एक साल तक योग शिक्षक के रूप में सेवाएं देने के बाद रवि ने चीन का रुख किया। योग सिखाने के लिए चीनी कंपनी के ऑफर लैटर को स्वीकार कर रवि चीन तो पहुंच गया लेकिन चीनी भाषा का ज्ञान न होना समस्या बन गई। मेहनती रवि ने अपने प्रयास जारी रखे और चीनी भाषा भी सीख ली।

चीन के स्कूलों के शिक्षकों को योग सिखाने के बाद वर्तमान में रवि जिलिन प्रांत के चांगचुंग जिले में रहकर लोगों को योग सिखा रहा है। रवि ने चीन में ही एक चीनी लड़की से शादी की, जिसको अब वह योगिता बुलाता है। उनका बेटा अमन अब एक साल का हो गया है। रवि इस दौरान वीडियो बनाकर अपने यू-ट्यूब चैनल पर शेयर करता है, जिन्हें लोग काफी पसंद करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here