बिजली कर्मचारियों की मांग, दिया जाए कोरोना वारियर्स का दर्जा, काले बिल्ले लगाकर जताया विरोध

0
66

आनी (टी सी शर्मा)। हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड आनी यूनिट ने केंद्रीय कार्यकारिणी के उपाध्यक्ष झाबे राम  शर्मा की अध्यक्षता में कोविड वैक्सिनेशन टीकाकरण में बिजली कर्मचारियों को कोई प्राथमिकता न देने के विरोध में 20 मई को काले बिल्ले लगाकर विरोध जताया। विद्युत बोर्ड कर्मचारी अपनी जान को जोखिम में डालकर विद्युत आपूर्ति को सुचारू रूप से बनाए रखने के लिए दिन रात मेहनत करते है। बिजली विभाग के कर्मचारियों को करोना वॉरियर्स घोषित  किया जाना चाहिए और कोरोना टीकाकरण में अलग से प्राथमिकता दी जानी चाहिए।

इससे बिजली कर्मचारी अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहे है। कोरोना वारियर्स की श्रेणी में विधुत कर्मियों को शामिल न करने के विरोध में बिधुत मंडल आनी के समस्त कर्मचाररियों ने काले बिल्ले लगाकर कार्य किया। इसमे सेक्शनों व ऑफिस स्टाफ व आउटसोर्सिंग कर्मचारियों, मेंटेनेंस स्टाफ व बिजली बिल के कार्य करने वाले कर्मचारियों ने भी काले बिल्ले लगाकर ऑफिस में आए व विरोध दिवस मनाया।

आनी विद्युत मंडल के सब डिवीज़न में कार्यरत बिल  डिस्ट्रीब्यूटर रामेश्वरी की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है। विद्युत मंडल आनी के सभी कर्मचारी व अभियंता  सूझबूझ के साथ सेवाएं निर्वहन कर रहे, लेकिन सरकार और बोर्ड मैनजमेंट अभी भी सोई हुई लगती है।

केंद्रीय कार्यकारिणी के उपाध्यक्ष झाबे राम शर्मा व अन्य  पदाधिकारी इस विरोध प्रदर्शन को केंद्रीय कार्यकारिणी के  आवाहन पर कोविड -19 कर्फ्यू की गाइडलाइन को मध्य  रखते हुए शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न किया। बिजली बोर्ड कर्मचारियों ने सरकार से मांग की है कि बिजली कर्मचारी   को कोरोना वारियर्स का दर्जा दिया जाये और बिजली बोर्ड कर्मचारियों की प्राथमिकता के आधार वेक्सिनेशन लगाई  जाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here