वैसे पंचायतें हो चुकी हैं शौच मुक्त, मगर यहाँ पंचायत घर ही शौच मुक्त नहीं

0
67

सराज विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत बगड़ा थाच में सार्वजनिक शौचालय के निर्माण कार्य में बड़ी लापरवाही सामने आई है। पुराने पंचायत प्रतिनिधि की भ्रष्टाचार की जड़ें इतनी फैली है कि यहाँ मनरेगा के तहत सार्वजनिक शौचालय के लिए 3 लाख सैंक्शन हुए थे। जिसमें 1 लाख 76 हज़ार का काम हो चुका है। 98 हज़ार का शौचालय के लिए सरिया, सीमेंट, रेत, बजरी व 2500 के करीब ईटें खरीदी गई, फिर भी शौचालय अधूरा है और सामान गायब हो चुका है।

नौजवान सभा सराज के अध्यक्ष व वर्तमान उप प्रधान रोहित कुमार का कहना है कि पंचायत में भ्रष्टाचार की जड़ें इतनी गहरी है कि यहाँ के पंचायत घर को लगभग 20 सालें हो चुकी है। मगर अभी भी उसकी जांच पूरी नहीं हुई है। कई ऐसे काम हैं जहाँ धरातल में कुछ भी नहीं है और कागजों तक ही सीमित हुए हैं। जो ऑडिट किया गया उस से भी हम संतुष्ट नहीं है।

रोहित कुमार ने मांग की है कि विभाग बगड़ा थाच पंचायत द्वारा पूर्व में फैले भ्रष्टाचार की पारदर्शिता से जांच करे और रिऑडिट करे ताकि आम जनता को न्याय मिल सके और बेहतर सुविधाएँ जनता को मिले। अगर ऐसा नहीं होता है तो नौजवान सभा आम जनता के साथ मिलकर धरने पर बैठेगी जिसकी ज़िम्मेदारी विभाग की होगी।

नहीं पनपने दिया जाएगा भ्रष्टाचार : रोहित

जनता के पैसे का दुरुपयोग कतई भी बर्दाशत नहीं किया जाएगा। पंचायत में जितने भी भ्रष्टाचार हुए हैं विभाग उन सब मामलों की जांच करे। ताकि हम जल्द ही रुके हुए विकास कार्यों में तेजी लाएं। भविष्य में इस तरह का भ्रष्टाचार नहीं पनपने दिया जाएगा। प्रतिनिधि जन सेवक हैं तो जनसेवक की तरह जनता के हित में काम हो, न कि सरकारी पैसे का दुरुपयोग करके आम लोगों को असुविधा की तरफ धकेला जाए।

— रोहित कुमार, उप प्रधान ग्राम पंचायत बगड़ा थाच व अध्यक्ष नौजवान सभा सराज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here