हिमाचल में रिमझिम बारिश, दो दिन ऑरेंज अलर्ट, नदी-नालों के किनारे न जाने की हिदायत

0
72

हिमाचल प्रदेश में सावन महीने के दूसरे दिन रविवार को रिमझिम बारिश का दौर चला। इससे तापमान में गिरावट दर्ज की गई। जिला हमीरपुर में दिनभर बादल छाए रहे। इस बीच 11 बजे तक हुई बारिश के बीच प्राथमिक पाठशाल भगेटू के भवन की दीवार गिर गई, वहीं भोरंज के रोपड़ी गांव में स्लेटपोश मकान जमींदोज हो गया।

उधर कांगड़ा जिले के नूरपुर में सबसे ज्यादा 95 मिलीमीटर बारिश हुई। इसके अलावा सिरमौर जिला के नाहन में 61, कांगड़ा के देहरा गोपीपुर में 46, मंडी में 11 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। राजधानी शिमला में भी दिनभर रिमझिम बारिश होती रही। बारिश से जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली है, वहीं मक्की की फसल के लिए भी बारिश वरदान साबित हो रही है। 

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने प्रदेश भर में 19 और 20 जुलाई को भारी बारिश का ऑरेंज और फिर दो दिन येलो अलर्ट जारी किया है। 22 जुलाई तक प्रदेश भर में मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान है। प्रशासन ने लोगों और पर्यटकों को नदी-नालों के किनारे और भूस्खलन वाले क्षेत्रों की ओर न जाने की हिदायत जारी की है। इसके अलावा प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए मशीनरी भी तैनात की है।

रविवार को डलहौजी का सबसे कम न्यूनतम तापमान 13.2 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि ऊना का सबसे अधिक अधिक तम तापमान 354 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया है।

शिमला का न्यूनतम तापमान 19.0, सुंदरनगर 24.5, भुंतर 23.1, कल्पा 14.7, धर्मशाला 20.0, ऊना 27.6, नाहन 23.9, केलांग 15.0, पालमपुर 21.5, सोलन 22.2, मनाली 23.0, बिलासपुर 26.0, हमीरपुर 26.7, चंबा 24.2, डलहौजी 13.2 और कुफरी 17.0 डिग्री सेेल्सियस रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here