Janmashtami 2021: ये राशियां हैं कृष्ण भगवान को बेहद प्रिय, इन पर होती है विशेष कृपा, क्या आप भी हैं शामिल

0
18

हिंदू धर्म में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पर्व का विशेष महत्व है। मान्यता है कि भगवान श्री कृष्ण, भगवान विष्णु के 8वें अवतार हैं। पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान श्री कृष्ण का जन्म भादों के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि और रोहिणी नक्षत्र में हुआ था। ज्योतिष में वर्णित कुल 12 राशियों में से कुछ राशियां भगवान श्री कृष्ण को बेहद प्रिय हैं। इस लिए इन राशियों पर भगवान श्री कृष्ण की विशेष कृपा होती है। आइये जानें इन राशियों के बारे में:-

यह भी पढ़ें : Janmashtami 2021: चाहते हैं बनी रहे श्री कृष्ण की आप पर खास कृपा, तो जन्माष्टमी के दिन जरूर करें ये काम

वृष राशि: ज्योतिष शास्त्र की मान्यताओं के अनुसार भगवान श्री कृष्ण को वृष राशि अति प्रिय है।  इस लिए इस राशि के लोगोंकिओ भ्ग्वंक्रिसं की पूजा अवश्य करना चाहिए और सदैव उनका ध्यान करते रहना चाहिए। इससे उनपर भगवान श्री कृष्ण की विशेष कृपा रहती है। भगवान कृष्ण की कृपा से इन लोगों को कार्यों में सफलता प्राप्त होती है।

यह भी पढ़ें : क्लर्क भर्ती: परीक्षा देने पहुंचे तो पता चला बदल गया है सेंटर

कर्क राशि: मान्यता है कि कर्क राशि के जातकों पर भगवान कृष्ण मेहरबान रहते हैं। इनकी कृपा से ये लोग जो भी कार्य करते हैं उन्हें उस हर कार्य में सफलता मिलती है। धार्मिक मान्यताओं है कि जिन लोगों पर श्रीकृष्ण की विशिष्ट कृपा होती है उन्हें मृत्यु के बाद मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस लिए इन्हें नित्य भगवान श्री कृष्ण और राधा रानी का सुमिरन व मनन करते रहना चाहिए।

यह भी पढ़ें : कुल्लू : प्रदर्शनी मैदान में शरारती तत्वों ने तोड़ा “आई लव कुल्लू” सेल्फी प्वाइंट

सिंह राशि: सिंह राशि भी भगवान कृष्ण को अति प्रिय है। इस राशि के जातक परिश्रम करने वाले होते हैं। भगवान कृष्ण की कृपा से इन्हें इनके द्वारा किये गए हर कार्य का फल प्राप्त होता है तथा सभी मुरादें पूरी होती है।

यह भी पढ़ें : Post Office से सुकन्या समृद्धि योजना में जमा लाखों रुपये हुए गायब, जानिए क्या है पूरा मामला?

तुला राशि: ज्योतिष शास्त्र की मान्यता है कि तुला राशि के जातकों को उनके जीवन में सभी प्रकार के सुख प्राप्त होते हैं। इन पर भगवान की विशेष कृपा होती है। जिससे इस राशि के जातकों को मान- सम्मान एवं पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होती है। इन्हें भगवान श्री कृष्ण का गुणगान व ध्यान हमेशा करते रहना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here