हिमाचल: अपने क्षेत्र की पहली डॉक्टर बनेंगी तबस्सुम, पहले ही प्रयास में पास की NEET परीक्षा

0
21

 

शिमला: शिमला जिला के कोटखाई की बेटी की मेहनत रंग लाई है। कोटखाई के सलयाणा गांव की तब्बसुम परोलटा ने पहले ही प्रयास में नीट की परीक्षा पास की है। नीट की परीक्षा में तब्बसुम ने 555 अंक हासिल किए हैं। तबस्सुम ने एमबीबीएस में प्रवेश कर अपने माता-पिता का नाम रोशन किया है।

बेटी की इस उपलब्धि पर पिता डॉ क्लीमदीन और माता हसीना सुल्तान ने खुशी जाहिर की है। तबस्सुम अपने इलाके की पहली डॉक्टर बनेंगी जिसका माता-पिता को बेहद गर्व है। तब्बसुम ने इसका श्रेय अपने अध्यापकों और माता-पिता को दिया है। बता दें कि तबस्सुम ने इसी साल 12वीं कक्षा डीएवी न्यू शिमला से 97.4% अंकों से उत्तीर्ण की थी।

हिमाचल वॉइस न्यूज़ से बात करते तबस्सुम ने बताया कि इस कोरोना काल में बच्चे अपनी 12वीं और नीट की परीक्षा के प्रति काफी तनाव में थे, परंतु ईश्वर कभी भी किसी की कठिन मेहनत के साथ बुरा नहीं करते, इसलिए हमें मेहनत करते रहना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here