दो साल पहले जिस घर के आंगन से दुल्हन के रूप में विदा हुई ज्योति, वहीं से उठी अर्थी…

0
19

मंडी: पुलिस की मौजूदगी में वीरवार को मंडी जिला के जोगिंद्रनगर की ज्योति का दाह संस्कार जोगिद्रनगर के नकेहड़ में हुआ। इस दौरान तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात रहा। दो साल पहले जिस घर से मां बाप ने अपनी इकलौती बेटी ज्योति को दुल्हन बनाकर डोली में बिठाकर खुशी-खुशी विदा किया था आज उसी घर के आंगन में बेटी की अर्थी उठी। ज्योति की अर्थी को दुल्हन की तरह सजाया गया। ज्योति के कंकाल को देखकर माता सवित्री देवी बिलखते हुए बेहोश हो गई। चीखो पुकार से पूरा गांव गूंज उठा। नम आंखों से सैकड़ों ग्रामीणों ने गांव की बेटी को अंतिम विदाई दी।

वीरवार दोपहर पोस्टमार्टम के बाद पार्थिव देह जैसे ही हराबाग के नकेहड़ पहुंचा तो पूरा गांव में मातम छा गया। हिंदू रिति रिवाज के अनुसार ज्योति के अंतिम संस्कार की रस्में पूरी हुई। भाई दीपक ने ही अपनी बहन की अंतिम संस्कार की रस्मों को पूरा किया और मुखाग्नि देकर उसे नम आंखों से विदा किया। पिता बृजभूषण बेटी की संदिग्ध मौत से आहत होकर रोते बिलखते रहे। ग्रामीणों और परिजनों के ढांढस बंधाने के बाद भी वह अपने आंसू रोक नहीं पाए।

दीपक ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर फिर सवाल उठाते हुए कहा कि एक माह तक पुलिस उनकी बहन की तलाश को लेकर पूरे परिवार को गुमराह करती रही और आखिर में टुकड़ों में बटा कंकाल घर पहुंचा जिससे वह आहत हैं। पुलिस के उच्चाधिकारियों से इस मामले की गहन जांच की मांग करते हुए बताया कि ससुराल पक्ष का पूरा परिवार बहन की संदिग्ध मौत का जिम्मेदार है। लिहाजा परिवार के अन्य सदस्यों की भी गिरफतारी कर उन्हें इन्साफ दिलाया जाए।

बता दें कि सुबह गुस्साए मायके वालों ने भराडू के गडूही में ज्योति के ससुराल के आंगन में शव को जलाने की भी धमकी दी थी। जिसके चलते भारी पुलिस बल तैनात रहा। लेकिन मायके पक्ष ने ससुराल में ज्योति का अंतिम संस्कार नहीं करवाया और हराबाग के नकेहड़ में ही अंतिम संस्कार की रस्मों को पूरा किया। अपनी लाडली बेटी की दर्दनाक मौत से पूरी तरह से टूट चुके पिता बृजभूषण ने कहा कि उनकी बेटी की हत्या कर शव जंगल में फैंका गया है। जबकि पुलिस आत्महत्या का मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

उन्होंने अपने दामाद पर हत्या का शक जाहिर करते हुए कहा कि पुलिस हत्या का मामला दर्ज कर जांच करे। वहीं, ज्योति के सास ससुर को भी पुलिस थाने में तलब कर सख्त पूछताछ जाए ताकि ज्योति की संदिग्ध मौत से पर्दा हट सके।

इधर, एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री का कहना है कि पुलिस हर पहलू को ध्यान में रखकर जांच कर रही है। आरोपियों को किसी सूरत में बक्शा नहीं जाएगा। नियमों के तहत कार्रवाई होगी। पूरे केस की पड़ताल गहनता से की जा रही है। जल्द ही असलीयत सामने आएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here