HomeNews | समाचारहिमाचलहिमाचल: पीडब्ल्यूडी की पहली महिला इंजीनियर इन चीफ बनीं अर्चना

हिमाचल: पीडब्ल्यूडी की पहली महिला इंजीनियर इन चीफ बनीं अर्चना

शिमला: आज महिलाएं हर क्षेत्र में आगे हैं। चाहे कोई भी क्षेत्र हो, महिलाएं पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं। हिमाचल प्रदेश में पहली बार कोई महिला पीडब्ल्यूडी की इंजीनियर इन चीफ बनीं है। जयराम सरकार ने पीडब्ल्यूडी की इंजीनियर इन चीफ प्रोजेक्ट अर्चना ठाकुर को पीडब्ल्यूडी विभाग का नया इंजीनियर इन चीफ (ईएनसी) नियुक्त कर दिया है। इस आदेश के साथ ही अर्चना ठाकुर इस पद पर आसीन होने वाली प्रदेश की पहली महिला अभियंता बन गई हैं।

आदेश के अनुसार उन्हें इंजीनियर इन चीफ प्रोजेक्ट का अतिरिक्त कार्यभार भी सौंप गया है। ईएनसी के आदेश जारी होने के बाद अर्चना ठाकुर ने सरकार का धन्यवाद किया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी पहली प्राथमिकता रोड सेफ्टी और बेहतर सड़कें देना रहेगी।

उन्होंने कहा कि चूंकि सड़क नेटवर्क ही प्रदेश का सबसे महत्वपूर्ण संपर्क साधन है, इसलिए इस नेटवर्क को ज्यादा से ज्यादा सुरक्षित बनाने पर जोर दिया जाएगा। नई सड़कों के निर्माण के अलावा सड़कों के रखरखाव पर खास जोर देंगी।

अगस्त 1988 में असिस्टेंट इंजीनियर के पद पर विभाग में नियुक्त हुईं अर्चना ने पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज से बी टेक किया है। वह कहती हैं कि चूंकि पिता इंजीनियर थे, इसलिए उन्हें देखकर इंजीनियर बनने का प्रोत्साहन मिला। उनके पति दलजीत ठाकुर वर्तमान में आईजी सीआईडी इंटेलिजेंस के पद पर तैनात हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments