परिवार का DNA सैंपल लेने विवेक के घर पहुँचे सेना के अफसर, मां बोली-कहां चला गया मेरा पुत्तर

0
11

कांगड़ा: उपमंडल जयसिंहपुर के ठेड़ू कोसरी के विवेक कुमार के सीडीएस बिपिन रावत के साथ तमिलनाडु हेलिकॉप्टर हादसे में निधन के बाद उनके परिजनों के डीएनए टेस्ट के लिए खून के सैंपल लिए गए। उनकी माता आशा, पिता प्रीतम चंद, भाई सुमित और बहन रजनी के सैंपल लिए गए। ये सैंपल डीएनए टेस्ट के लिए दिल्ली भेजे गए हैं।

बताया जाता है कि हादसे में मारे गए विवेक कुमार के शरीर के मिले अविशेषों के साथ अब परिजनों के डीएनए का मिलान किया जाएगा। उसके बाद ही उनका पार्थिव शरीर घर भेजा जाएगा। इससे उम्मीद जताई जा रही है कि अभी दो दिन के बाद विवेक कुमार की पार्थिव देह घर आ सकती है।

इस हादसे के बाद मां का रो-रोकर बुरा है और मां के मुंह से एक ही बात निकल रही है, ‘मेरा पुत्तर मुझे छोड़कर कहां चला गया।’ विवेक की पत्नी प्रियंका रानी भी रो-रोकर बेसुध हो रही है। पिता आंगन में कुर्सी लगाए चुपचाप गमगीन बैठे हैं।

विवेक कुमार के निधन की खबर सुनकर जयसिंहपुर के विधायक रविंद्र धीमान भी उनके घर पहुंचे। प्रशासन से एसडीएम पवन शर्मा भी विवेक कुमार के घर आए। विधायक रविंद्र धीमान ने विवेक के पिता प्रीतम चंद को सांत्वना दी तथा सरकार से उसके अंतिम संस्कार के लिए हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के अधीन जो कुछ भी हो सकता है, विवेक के परिवारों के लिए किया जाएगा। कहा कि जयसिंहपुर ने एक वीर सपूत को खो दिया है। लंबागांव थाना के थाना प्रभारी भी मौके पर मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here