बिहार की बेटी हिमाचल में बनी टॉपर, पिता हमीरपुर में करते हैं पेंटर का काम

0
24379

हमीरपुर: 12वीं कक्षा के परिणाम में इस बार बेटियों का दबदबा रहा है। परीक्षा परिणाम में बिहार की एक बेटी ने भी टॉप किया हैं। मूलतः बिहार की रहने वाली ज्योति झा ने मेरिट लिस्ट में आठवां स्थान हासिल किया हैं। ज्योति झा कन्या स्कूल हमीरपुर की छात्रा है। उसने 500 में से 476 अंक प्राप्त किए हैं।

मेरिट लिस्ट में आठवां स्थान

ज्योति ने हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की 12वीं कक्षा की परीक्षा में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। ज्योति बिहार के सहारसा जिला के खुजराहा गांव की रहने वाली है। कॉमर्स संकाय की छात्रा ज्योति ने 500 में से 476 अंक हासिल किए हैं। कुल 95.20 प्रतिशत अंक लेकर ज्योति ने मेरिट लिस्ट में आठवां स्थान प्राप्त किया है।

हमीरपुर में पेंटर का काम करते हैं पिता

ज्योति के पिता अनिल झा हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में पेंटर का काम करते हैं। जबकि माता कविता देवी निजी दुकान में काम करती हैं। ज्योति ने बताया कि वह सुबह-शाम घर पर काम में माँ का हाथ बंटाने के बाद अपनी पढ़ाई करती थी।

20 वर्ष पहले बिहार से हिमाचल आया था परिवार

ज्योति के माता-पिता काम की तलाश में 20 वर्ष पहले हमीरपुर आ गए थे। ज्योति की पढ़ाई हमीरपुर में ही हुई है। हमीरपुर के एक निजी स्कूल से शुरुआती पढ़ाई करने के बाद उन्होंने कन्या स्कूल हमीरपुर में दाखिला लिया था। परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने के बावजूद ज्योति ने अपनी मेहनत के दम पर यह मुकाम हासिल किया है। बेटी की इस उपलब्धि पर माता-पिता खुशी से फूले नहीं समा रहे।

सीए बनना है ज्योति का सपना, शुरू कर दी है तैयारी

ज्योति ने कहा कि उनकी इस सफलता में उनकी बड़ी बहन जूली का अहम योगदान रहा हैं। बड़ी बहन ने हमेशा उसे पढ़ाई के लिए प्रेरित किया है। ज्योति ने बताया कि वह भविष्य में सीए बनना चाहती हैं। उन्होंने इसके लिए तैयारी भी शुरू कर दी है।

6 साल से नहीं गई अपने घर

ज्योति ने अपनी सफलता का श्रेय अपने अभिभावकों और अध्यापकों को दिया है। ज्योति ने बताया कि वह पिछले छह सालों से बिहार स्थित अपने घर भी नहीं गई हैं, ताकि उनकी पढ़ाई न बाधित हो।

अध्यापकों ने दी बधाई 

वहीं, राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला हमीरपुर की प्रधानाचार्य पूनम चौहान और स्टाफ सदस्यों ने छात्रा ज्योति को मेरिट लिस्ट में आठवें स्थान पर आने पर शुभकामनाएं एवं बधाई दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here