करवाचौथ पर रोहिणी नक्षत्र में होगी पूजा, 24 को है व्रत

0
23

कांगड़ा: महिलाओं द्वारा अपने पति की दीर्घायु के लिए रखा जाना वाला करवाचौथ व्रत कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी 24 अक्तूबर रविवार को मनाया जाएगा। जवाली के ज्योतिषी पंडित विपिन शर्मा ने बताया कि इस बार खास बात है कि पांच साल उपरांत करवाचौथ पर शुभ संयोग बन रहा है।

इस बार करवाचौथ पर रोहिणी नक्षत्र में चांद की पूजा होगी तो रविवार का दिन होने के कारण सूर्य देव का भी व्रती महिलाओं को आशीर्वाद प्राप्त होगा। करवाचौथ के दिन सुहागिन महिलाएं पति की लंबी उम्र की कामना के लिए निर्जला व्रत रखती हैं तथा रात में चांद देखने के बाद व्रत खोला जाता है। कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को यह व्रत रखा जाता है।

पूजा विधि

सुबह सूर्योदय से पहले उठकर स्नान कर लें। इसके बाद सरगी के रूप में मिला हुआ भोजन करें। पानी पीएं और गणेश जी की पूजा करके निर्जला व्रत का संकल्प लें।

कब और कहां, कितने बजे निकलेगा चांद

कांगड़ा जिला में चांद का दीदार आठ बजकर छह मिनट पर होगा। धर्मशाला, जवाली, कांगड़ा ,नादौन, नूरपुर, नालागढ़,बनीखेत में रात आठ बजकर आठ मिनट, कुल्लू में रात आठ बजकर पांच मिनट पर चांद निकलेगा। इसके अलावा चंबा, नाहन में रात आठ बजकर सात मिनट पर चांद का दीदार होगा। पालमपुर, बैजनाथ,सुंदरनगर में रात आठ बजकर छह मिनट पर, सोलन में रात आठ बजकर सात मिनट पर चांद निकलेगा।

शुभ मुहूर्त

जवाली के ज्योतिषी पंडित विपन शर्मा ने बताया कि रोहिणी नक्षत्र में चांद निकलेगा और पूजन होगा। कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि इस साल 24 अक्तूबर, रविवार सुबह तीन बजकर एक मिनट पर शुरू होगी जो कि अगले दिन 25 अक्तूबर को सुबह पांच बजकर 43 मिनट तक रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here