Homeहिमाचलसोलनबर्ड फ्लू को लेकर हिमाचल में अलर्ट, मुर्गे-मुर्गियों के सैंपल जाँच के...

बर्ड फ्लू को लेकर हिमाचल में अलर्ट, मुर्गे-मुर्गियों के सैंपल जाँच के लिए भेजे

सोलन: केरल में बर्ड फ्लू के मामले सामने आने के बाद हिमाचल प्रदेश में भी पशुपालन और वन विभाग को अलर्ट कर दिया गया है। सुरक्षा के लिहाज से सोलन जिला में पक्षियों के सैंपल लेकर जांच भी शुरू कर दी गई है। नालागढ़, कसौली और सोलन खंड में पक्षियों सहित मुर्गे-मुर्गियों के सैंपल लेकर जांच के लिए जालंधर भेजे हैं।

टीमें पोल्ट्री फार्मों में जाकर भी सैंपल ले रही हैं। हालांकि, अभी जांच में सभी पक्षी सामान्य पाए गए हैं। उल्लेखनीय है कि सर्दी के मौसम में बाहरी राज्यों से पक्षी प्रदेश पहुंचते हैं। ये पक्षी झरनों, नदी-नालों सहित पौंग और रेणुका झील वाले क्षेत्रों में रहना पसंद करते हैं। हालांकि, सोलन में कम ही विदेशी पक्षी पहुंचते हैं लेकिन पशुपालन विभाग ने पक्षियों की जांच शुरू कर दी है। रैंडम सैंपलिंग कर 15-15 दिन के बाद सैंपल जालंधर लैब को भेजे जा रहे हैं।

पशु पालन विभाग सोलन के उपनिदेशक बीबी गुप्ता ने बताया कि प्रदेश में विदेशी पक्षियों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है। विभाग अलर्ट है। जांच के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। रोजाना पक्षियों की रैंडम सैंपलिग की जा रही है।

वन्य प्राणी विहार रेणुका के आरओ नंदलाल ठाकुर ने बताया कि रेणुका वेटलेंड में बर्ड फ्लू की आशंका नहीं है। आवश्यकता पड़ी तो ही पक्षियों के सैंपल लिए जाएंगे। पशु पालन विभाग ऊना के उप निदेशक डॉ. जय सिंह सेन ने मुर्गी पालकों और लोगों से अपील की है कि प्रवासी पक्षियों से फ्लू का वायरस पालतू मुर्गियों में न फैले, इसके लिए एहतियात बरतें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments