हिमाचल: बैंक ऑफिसर बनीं चंबा की अंजली शर्मा, माता-पिता स्कूल में मिड-डे मील वर्कर

0
24

चंबा: कहते हैं मेहनत करने वालों की कभी हार नहीं होती। जब आप पूरी शिद्दत और लग्न के साथ किसी काम की शुरुआत करते हैं तो सफलता आपके कदम चूमती ही चूमती है। कुछ ऐसी ही मिसाल कायम की है जिला चंबा की तेलका उप तहसील की ग्राम पंचायत सेरी की रहने वाली अंजली शर्मा ने, जिसने कड़ी मेहनत से अपने बैंक ऑफिसर बनने के बचपन के सपने को पूरा कर दिखाया। हालांकि कई बार उनके कदम लडख़ड़ाए भी, लेकिन परिवार व शिक्षकों के हौसलों ने उसकी हिम्मत को टूटने नहीं दिया।

सेरी निवासी अंजली शर्मा के बैंक में ऑफिसर बनने से वह अन्य लड़कियों के लिए प्रेरणास्रोत बन गई हैं। बैंक अफसर बनने के बाद गांव पहुंचने पर अंजली का परिजनों व ग्रामीणों ने भव्य स्वागत किया। परिवार में पांच बहनें व एक भाई है। माता-पिता सेरी स्कूल में मिड-डे-मील वर्कर हैं और इसी से बच्चों की पढ़ाई व परिवार का पालन-पोषण करते हैं।

अंजली के परिजनों का कहना है कि उनकी बेटी पढ़ने में काफी तेज है और बचपन से ही कुछ करना चाहती थी। अंजली ने दसवीं तक की शिक्षा सेरी स्कूल से प्राप्त की। इसके बाद उसने ब्लॉक लेवल का एक टेस्ट दिया था, जिसमें वह अव्वल रही। डीसीम जीपीएस लिचोरी ने अंजली को नि:शुल्क पढ़ाने का न्योता दिया, जिससे उसने 12वीं तक की शिक्षा डीसीम जीपीएस लिचोरी से की।

इसके बाद अंजली अपनी बहन के घर जिला मंडी चली गई और यहां सरदार पटेल यूनिवर्सिटी से उच्च शिक्षा हासिल की। अंजली का कहना है कि दृढ़ इच्छाशक्ति व कठिन मेहनत द्वारा कोई भी लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। अंजली ने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता से मिले प्रोत्साहन व अपनी बहन व जीजा को दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here