HomeNews | समाचारहिमाचलमिक्चर प्लांट के चलते किसान की फसल तबाह

मिक्चर प्लांट के चलते किसान की फसल तबाह

विनोद चड्ढा, फॉर हिमाचल वॉइस, बिलासपुर: घुुुमारवीं उपमंडल की ग्राम पंचायत पनोह के गांव सनौर के जीतराम ठाकुर अपनी आंखों के सामने अपने खून पसीने से कमाई गई फसल को तबाह होते देखने को मजबूर है हालांकि उन्होंने इस बारे गाबर कंपनी के अधिकारियों को भी अवगत कराया लेकिन समस्या जैसे कि ऐसे ही बनी रही ।

बताते चलें कि ग्राम पंचायत पनोह के गांव सनौर के जीतराम ठाकुर हर वर्ष 6 से ₹ 7,00000 की नकदी फसल का व्यापार करते हैं । जिसमें खीरा , करेला , शिमला मिर्च , टमाटर ,गोभी आदि शामिल है तथा यह हर वर्ष अपनी जमीन से सैकड़ों क्विंटल सब्जी का उत्पादन करते हैं लेकिन गत कुछ वर्षों से नेरचौक कीर्तिपुर सड़क निर्माण कंपनी द्वारा उनकी जमीन के साथ ही मिक्सर प्लांट लगा दिया है जिसके चलते वहां हजारों टन बजरी मिक्स होती है तथा उस से निकली धूल ने ग्रीन हाउस के अंदर उपजी फसल को पूरी तरह से तबाह कर दिया है ।

जीत राम ठाकुर ने बताया कि वह फूल गोभी के सीजन में लगभग 80 क्विंटल तैयार करते हैं । लेकिन इस बार हजारों रुपए से खरीदा गया बीज व अन्य दवाइयों पर लगाए गए पैसे सभी व्यर्थ हो गए हैं क्योंकि प्लाट से निकली धूल ने सारी फसल को ही तबाह कर दिया है । उन्होंने इस मामले में उपायुक्त बिलासपुर से भी गुहार लगाई है कि उनके आर्थिक नुकसान की भरपाई की जाए।

उन्होंने कहा कि इस प्लाट के चलते उन्हें प्रत्येक वर्ष लाखों रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है । उन्होंने प्रशासन से गुहार लगाई कि या तो इस प्लाट को किसी अन्य जगह पर स्थानांतरित किया जाए या उन्हें हुए नुकसान की हर वर्ष भरपाई की जाए तथा यदि यही हाल रहा तो उनका परिवार भुखमरी का शिकार हो जाएगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments