हिमाचल: नामी फार्मास्यूटिकल कंपनी के कार्यालयों पर आयकर विभाग की छापेमारी

0
23

सोलन: देश की एक नामी फार्मास्यूटिकल कंपनी टॉर्क फार्मास्यूटिक्ल पर आयकर विभाग ने बड़ी छापेमारी की है। हिमाचल प्रदेश के अलावा पंजाब, हरियाणा समेत देशभर में यह छापेमारी हुई है। बड़ी बात यह है कि बुधवार सुबह सात बजे आयकर विभाग की अलग-अलग टीमों ने सभी जगह एक साथ यह छापेमारी की है।

बता दें कि साल 1985 में टोरेक्स कफ सिरप को लेकर अस्तित्व में आई टॉर्क फार्मास्यूटिक्लस के 6 मुख्य ब्रांड टोरेक्स कफ सिरप, स्किन क्रीम नो स्कार्स, यू-बी फेयर साबुन व क्रीम, पानी का ब्रांड जल, कैटोमैक शैंपू, आयुर्वेदिक प्रोडक्स समेत अनेकों उत्पाद हैं। कंपनी कैप्सूल, टैवलेट, डाई सिरप, ऑरल सस्पेंशन, स्किन क्रीम, साबुन, शैंपू समेत अन्य उत्पादों का निर्माण करती है।

टार्क विदेशों में भी अपने उत्पाद निर्यात कर रही है। वहीं, मशहूर गायक स्वर्गीय जगजीत सिंह, बॉलीवुड स्टार सनी लियोनी व मॉडल पुलकित सम्राट कंपनी के ब्रांड एंबेजडर रहे हैं। 1985 से लेकर अब तक कंपनी ने साल दर साल अनेकों पायदान तय किए।

सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी से पता चला है कि वित्तिय अनियमितताओं और टैक्स चोरी को लेकर यह छापेमारी की गई है। बुधवार सुबह सात बजे बद्दी और झाड़माजरी यूनिट पहुंची आयकर विभाग की टीमों ने उद्योग को सील कर दिया।

सुबह बद्दी और झाड़माजरी स्थित टार्क फार्मास्यूटिक्लस के प्लांट की सात बजे की शिफ्ट शुरू होनी थी। लेकिन शिफ्ट शुरू होने से पहले ही आयकर विभाग की 6 गाडिय़ां झाड़माजरी प्लांट पहुंची और प्लांट को सील कर दिया। उद्योग का जो स्टॉफ अंदर था वह अंदर रह गया और बाहर थे वह बाहर ही रह गए। पता चला है कि अंदर जाते ही आयकर विभाग की टीम ने सबसे पहले सब के मोबाईल कब्जे में लिए और अपनी पड़ताल शुरू कर दी।

सूत्रों से यह भी पता चला है कि टॉर्क फार्मास्यूटिक्ल पर पंजाब, हरियाणा, हिमाचल सहित देशभर में छापेमारी की गई है। जिसमें कंपनी का मुख्य कार्यालय, सभी ब्रांच ऑफिस, फैक्ट्ररियां व गोदाम शामिल हैं। आयकर विभाग की टीम में हरियाणा, पंजाब और चंडीगढ़ के अधिकारी शामिल हैं।

सात बजे जैसे ही आयकर विभाग टीमें साईं रोड़ और झाड़माजरी के एलंबिक चौक के समीप प्लांट पर पहुंची सिक्योरिटी समेत कंपनी प्रबंधकों के होश उड़ गए। चंद मिंटों में दोनों प्लांटों को सील करके रिकार्ड को खंगालना शुरू किया। देर शाम तक आयकर विभाग के अधिकारी कंपनी के दोनों यूनिट में डेरा डाले रहे और रिकार्ड खंगाला जा रहा है।

आयकर विभाग के उच्चाधिकारी का कहना है छापेमारी खत्म होने और पड़ताल के बाद ही अधिकारिक तौर पर इस मामले को लेकर जानकारी दी जाएगी।

वहीं, एसपी बद्दी मोहित चावला ने बताया कि आयकर विभाग के अधिकारियों ने जितने पर्याप्त पुलिस जवानों की मांग की थी उनके साथ भेजे गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here