Ucraine Crisis: जोगिंद्रनगर की करीना को डिग्री से चार महीने पहले छोड़ना पड़ा यूक्रेन

0
35

मंडी: हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के जोगिंद्रनगर की करीना यूक्रेन से सुरक्षित अपने घर पहुंच गई हैं। एमबीबीएस की पढ़ाई पर लाखों रुपये खर्च करने के बाद घर पहुंचते ही वह परिजनों से मिलकर फूट-फूट कर रोईं।

करीना ने बताया कि उन्हें जून में डिग्री मिल जानी थी। अब भविष्य की चिंता सता रही है कि वह अपनी पढ़ाई कैसे पूरी कर पाएंगी। कहा कि माता-पिता ने पढ़ाई पर लाखों रुपये खर्च किए हैं। उन्हें यकीन नहीं हो रहा है कि वह अपने घर पहुंच गई हैं।

करीना ने कहा कि उन्हें जरा भी ऐसा अंदेशा नहीं था कि यूक्रेन में इस कद्र हालात बिगड़ेंगे। अचानक शुरू हुई बमबारी से पूरा यूक्रेन सहम गया है। उसके सहयोगी अभी वहां फंसे हैं। करीब डेढ़ साल पहले जोगिंद्रनगर से वापस पढ़ाई के लिए यूक्रेन पहुंची थीं तो हालात सामान्य थे। वह अभी घर नहीं आना चाहती थीं।

यूक्रेन की राजधानी कीव से करीब 200 किलोमीटर दूर वुकोविनियन मेडिकल यूनिवर्सिटी में आखिरी सेमेस्टर की पढ़ाई कर रही थीं। अब हालात इस कद्र खराब हो चुके हैं कि वापस जाने के लिए भी सौ बार सोचेंगी।

करीना के पिता राजकुमार, माता कौशल्या देवी ने बताया कि वहां तनावपूर्ण माहौल की जानकारी से पहले बेटी को लेकर चिंतित थे, लेकिन अब उसके घर सुरक्षित पहुंचने से बड़ी राहत मिली है। मां कौशल्या बोली कि वहां फंसे प्रदेश के अन्य युवक-युवतियों को भी प्रदेश और केंद्र सरकार तत्काल प्रभाव से सुरक्षित घर पहुंचाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here