Homeहिमाचलमंडीउफनती खड्ड, जोखिम में जान- स्कूल जाने के लिए उठाना पड़ता है...

उफनती खड्ड, जोखिम में जान- स्कूल जाने के लिए उठाना पड़ता है जान का जोखिम

मंडी: जिला के जोगिंदर नगर उपमंडल की लडभड़ोल तहसील क्षेत्र की ग्राम पंचायत पिहड बेढहलू के गांव भरैडा के करीब आधा दर्जन परिवारों के बच्चे जान जोखिम में डालकर स्कूली शिक्षा प्राप्त करने के लिए जाने को मजबूर हैं। गांव और स्कूल के मध्य खडड होने के कारण बरसात के दिनों में खडड का जलस्तर बढ़ने के साथ-साथ भाव भी तेज हो जाता है और इस खडड पर कोई पुली या पुल ना होने के कारण बच्चों को खडड के रास्ते तेज रफ्तार पानी के दौरान भी स्कूल जाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

पिछले कई दशकों से इस समस्या का गांव वासियों द्वारा हल करने के लिए कई बार पंचायत विभाग प्रशासनिक अधिकारियों सहित मंत्रियों के आगे गुहार लगाने के बाद भी समस्या जस की तस हैं। जिसका खामियाजा बरसात के दिनों में खासकर स्कूली बच्चियों को झेलना पड़ रहा है। एक तरफ जहां प्रदेश सरकार शिक्षा सुविधाओं और गांव गांव में विकास का ढिंढोरा पीटकर वाहवाही लूटी हैं।ऐसी समस्याओं पर प्रदेश सरकार की कोई नजर नहीं है।

गांववासियों में सुभाष, बक्शी राम, वीर सिंह, संतोष कुमार, विनय कुमार आदि ने बताया कि 40 वर्षों से मांग करते आए हैं पर कुछ नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि वे जोगिन्दरनगर के विधायक से भी कई बार मिले पर आज तक ग्रामीणों की मांग पर सुनवाई नहीं हो पाई हैं। उन्होंने प्रदेश सरकार से मांग करते हुए कहा कि जल्द से जल्द यहां पुली या पुल का निर्माण करवाया जाए।

इस बारे में ग्राम पंचायत पिहड बेढहलू की प्रधान रेणु देवी ने कहा कि इस संबंध में कई बार पंचायत की मीटिंग में भी पुल का प्रस्ताव डाला गया है और इस संबंध में जोगिंदर नगर विधायक से भी बात की गई है पर लोक निर्माण विभाग इस पर कोई ध्यान नहीं दे रहा है।

इस बारे में लोक निर्माण विभाग उपमंडल लडभड़ोल के सहायक अभियंता राहुल ठाकुर ने बताया कि इस संबध में रिपोर्ट उच्चअधिकारियों को भेजी गई है और जब तक उच्चअधिकारियों की और से जवाब नहीं आएगा तब कदम नहीं उठाया सकता हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments